Best 103+ Bahaar Shayari — बहार शायरी फेसबुक वाट्सऐप

Bahaar Shayari Status Images In Hindi Urdu में मिलेगा

बहार शायरी से जुडी शानदार बेहतरीन, मौसम-ए-बहार शायरी, Bahaar Poetry Images

जिसे आप Facebook-WhatsApp पर साझा भी कर सकते हैं।

दोस्तों आज की पोस्ट उन सभी शेर-ओ-शायरी के चाहने वालों के लिए खास होने जा रही आज की

Bahaar Poetry के इस पोस्ट में मिलेगा मशहूर जानेमाने शायरों द्वारा लिखी गयी

एक से बढ़ कर एक दिल को छू लेने वाली बहार पर शायरी जो मौसम-ए-बहार का पूरा लुफ्त देगी.

तो दोस्तों आईये बहारो के मौसम का भरपूर लुफ्त उठाते हैं. और बिना देर किये शुरुआत करते हैं

आज की ख़ास शब्दों के जादू से भरी 2 Line Bahaar Shayari Images In Hindi Urdu की

और पढ़ते हैं सबसे बेहतरीन Bahaar Quotes in Hindi को और अपने दोस्तों में फेसबुक वाट्सऐप, ट्विटर और इंस्टाग्राम पर चित्रों के साथ साझा भी करते हैं।

Bahaar Shayari — बहार शायरी

◼ 1 💦 ये दिल फरेब तबस्सुम ये मस्त नजर, तुम्हारे दम से चमन में बहार बाकी है❗

◼ 2 💦 जो थी बहार तो गाते रहे बहार का राग ख़िज़ाँ जो आई तो हम हो गए ख़िज़ाँ की तरफ़• ➖जलील मानिकपूरी।।

◼ 3 💦 उधर भी ख़ाक उड़ी है इधर भी ख़ाक उड़ी जहाँ जहाँ से बहारों के कारवाँ निकले• ➖ साहिर लुधियानवी।।

Bahaar Shayari Images
◼ 4 💦 प्यार में एक ही मौसम है बहारों का मौसम लोग मौसम की तरह फिर कैसे बदल जाते हैं• ➖फ़राज़ ।।

Bahaar Shayari Images

◼ 5 💦 मैं ख़िज़ाँ की शाम हूँ रुत बहार की है तू• ➖नासिर काज़मी।।

Bahaar Shayari In Urdu

◼ 6 💦 मौसम-ए-बहार है अम्बरीं ख़ुमार है, किस का इंतिज़ार है गेसुओं को खोलिए• ➖अदम।।

  • ◼ 7 💦 तुम कहो तो बहार बनकर सब मौसमों को मात देदूं।।
Bahaar Shayari In Urdu

◼ 9 💦 बहारों की नज़र में फूल और काँटे बराबर हैं, मोहब्बत क्या करेंगे दोस्त दुश्मन देखने वाले• ➖कलीम आजिज़।।

Bahaar Shayari In Hindi

◼ 10 💦 बहार आई कि दिन होली के आए गुलों में रंग खेला जा रहा है• ➖जलील मानिकपूरी।।

◼ 11 💦 मेरी आँखों में हैं आँसू तेरे दामन में बहार गुल बना सकता है तू शबनम बना सकता हूँ मैं• ➖नुशूर वाहिदी।।

Shayari on Bahaar

◼ 13 💦 बड़ी तलब थी बड़ा इंतिज़ार देखो तो बहार लाई है कैसी बहार देखो तो• ➖कलीम आजिज़।।

◼ 14 💦 और हम खड़े-खड़े बहार देखते रहे कारवाँ गुज़र गया गुबार देखते रहे• ➖गोपालदास नीरज।।

Shayari on Bahaar

◼ 15 💦 तेरे क़ुर्बान ‘क़मर’ मुँह सर-ए-गुलज़ार न खोल, सदक़े उस चाँद सी सूरत पे न हो जाए बहार• ➖क़मर जलालवी।।

════💦
इन्हें भी पढ़े ◼ [ 20+ Ghata Shayari काली घटा पर घटा शायरी ]
════💦

◼ 16 💦 टपक के आँखों से आए लहू जो दामन तक तो इस बहार से बेहतर कोई बहार न हो• ➖यगाना चंगेज़ी।।

◼ 17 💦 लुत्फ़-ए-बहार कुछ नहीं गो है वही बहार, दिल ही उजड़ गया कि ज़माना उजड़ गया• ➖अज़ीज़ लखनवी।।

  • ◼ 18 💦 और तो क्या दिया बहारों ने बस यही चार दिन की रुस्वाई• ➖सलीम अहमद।।
Bahaar Shayari For WhatsApp

◼ 20 💦 कोई एसी बजमे बहार हो जहाँ मैं यकीं दिला सकूं कि तेरा नाम है फसले गुल कि तुझी से हैं ये करामतें।।

◼ 21 💦 तेरे दम से थी बहारों में बहार अब कहाँ है वो बहार-ए-ज़िंदगी• ➖गोपाल कृष्णा शफ़क़।।

════💦
इन्हें भी पढ़े ◼ [ 198+ Barish Shayari बारिश शायरी ]
════💦

◼ 22 💦 खुशबू ग़ुंचे तलाश करती है बीते रिश्ते तलाश करती है अपने माज़ी की जुस्तज़ू में बहार पीले पत्ते तलाश करती है• ➖गुलजार।।

◼ 23 💦 ये सोचते ही रहे और बहार ख़त्म हुई कहाँ चमन में नशेमन बने कहाँ न बने• ➖असर लखनवी।।

  • ◼ 24 💦 कुछ करो फ़िक्र मुझ दीवाने की, धूम है फिर बहार आने की. – मीर तक़ी मीर।।

Bahaar Shayari For WhatsApp

◼ 26 💦 तिनकों से खेलते ही रहे आशियाँ में हम, आया भी और गया भी ज़माना बहार का• ➖फ़ानी बदायुनी।।

Bahaar Shayari In Hindi For FB

◼ 27 💦 सौ बहारों की है बहार ‘जिगर’ उन का रह रह के मुस्कुरा देना• ➖जिगर जालंधरी।।

◼ 28 💦 बहार आए तो मेरा सलाम कह देना मुझे तो आज तलब कर लिया है सहरा ने• ➖कैफ़ी आज़मी।।

Bahaar Shayari In Hindi For FB

Bahaar Poetry In Hindi
  • ◼ 30 💦 लुत्फ़ जो उस के इंतज़ार में है, वो कहाँ मौसम-ए-बहार में है।।

मौसम बहार शायरी

Bahaaro Par Shayari In Hindi

◼ 31 💦 अपने लिए भी मौसमे गुल है बहार है, जब से सुना है उनको मेरा इंतज़ार है• ➖रहबर।।

════💦
इन्हें भी पढ़े ◼ [ 101+ Romantic Mausam Shayari – मौसम शायरी ]
════💦

◼ 32 💦 मिरी ज़िंदगी पे न मुस्कुरा मुझे ज़िंदगी का अलम नहीं, जिसे तेरे ग़म से हो वास्ता वो ख़िज़ाँ बहार से कम नहीं• ➖शकील बदायुनी।।

◼ 33 💦 इस तरफ़ से गुज़रे थे क़ाफ़िले बहारों के आज तक सुलगते हैं ज़ख़्म रहगुज़ारों के• ➖साहिर लुधियानवी।।

Bahaar Shayari For Facebook

◼ 35 💦 जला के दाग़-ए-मुहब्बत ने दिल को ख़ाक किया बहार आई मेरे बाग में ख़िज़ां की तरह• ➖दाग़।।

◼ 36 💦 फिर उसके बाद वही बासी मंजरों के जुलूस, बहार चंद ही लम्हे बहार रहती है• ➖राहत इंदौरी।।

Images Bahaar Shayari

बहार शायरी स्टेटस का बेहतरीन कलेक्शन

◼ 38 💦 तुम ने हम जैसे मुसाफ़िर भी न देखे होंगे जो बहारों से चले और ख़िज़ाँ तक पहुँचे• ➖इक़बाल अज़ीम।।

════💦
इन्हें भी पढ़े ◼ [ 75+ Samandar Shayari – समंदर शायरी ]
════💦

◼ 39 💦 अजब बहार दिखाई लहू के छींटों ने ख़िज़ाँ का रंग भी रंग-ए-बहार जैसा था• ➖जुनैद हज़ीं लारी।।

Bahaar Sthayari hindi

◼ 40 💦 उग रहा है दरो दीवार में सबजा गालिब हम बयाबां में हैं और घर में बहार आई है• ➖गालिब।।

◼ 41 💦 जो तुम मुस्कुरा दो बहारें हँसे, सितारों की उजली कतारें हँसे जो तुम मुस्कुरा दो नज़ारें हँसे, जवां धड़कनों के इशारे हँसे।।

◼ 42 💦 इक बहार आती है इक बहार जाती है, ग़ुंचे मुस्कुराते हैं फूल हाथ मलते हैं• ➖सहबा लखनवी।।

बहारों पर शायरी हिंदी और उर्दू में

◼ 43 💦 जो देख लेगा हर बशर् उसको खुद में ही कहीं, तो मज़हबी इमारतों के बहार फ़कीर कोई होगा नहीं।।

Bahaar Status in Hindi

════💦
इन्हें भी पढ़े ◼ [ 146+ Shaam Par Shayari Status – शाम पर शायरी ]
════💦

◼ 45 💦 गुलों का दौर है बुलबुल मज़े बहार में लूट, ख़िज़ाँ मचाएगी आते ही इस दयार में लूट• ➖हबीब मूसवी।।

  • ◼ 46 💦 कांटा समझ के मुझ से न दामन बचाइए, गुजरी हुई बहार की इक यादगार हूँ।।
2 Line Bahaar Shayari

◼ 47 💦 दरीचे जहन के मै बन्द कर नहीं सकता दिमाग अपना मुझे पुर बहार करना है।।

  • ◼ 48 💦 ऐ दिल-ए-बे-क़रार चुप हो जा जा चुकी है बहार चुप हो जा• ➖साग़र सिद्दीक़ी।।
  • ◼ 49 💦 मुस्कुराओ बहार के दिन हैं, गुल खिलाओ बहार के दिन हैं• ➖साग़र सिद्दीकी।।

◼ 51 💦 बे मौसम बरसात से अंदाज़ा लगता हूँ मैं, फिर किसी मासूम का दिल टुटा है मौसम-ए-बहार में।।

“बहार शायरी”

◼ 52 💦 जब हम रुकें तो साथ रुके शम-ए-बेकसी, जब तुम रुको बहार रुके, चाँदनी रुके।।

◼ 53 💦 नाम भी लेना है जिस का इक जहान-ए-रंग-ओ-बू दोस्तो उस नौ-बहार-ए-नाज़ की बातें करो।।

════💦
इन्हें भी पढ़े ◼ [ 75+ Ishq Shayari In Hindi – इश्क शायरी ]
════💦

◼ 54 💦 चाँद तारो की कसम खाता हूँ, मैं बहारों की कसम खाता हूँ, कोई आप जैसा नज़र नहीं आया, मैं नजारों की कसम खाता हूँ।।

  • ◼ 55 💦 काँटों को मत निकाल चमन से ओ बाग़बाँ, ये भी गुलों के साथ पले हैं बहार में।।
  • ◼ 57 💦 आमद से पहले तेरी सजाते कहाँ से फूल, मौसम बहार का तो तेरे साथ आया है।।

◼ 58 💦 लेके अपनी-अपनी किस्मत आए थे गुलशन में गुल, कुछ बहारों मे खिले और कुछ ख़िज़ाँ में खो गए• ➖राजेश रेड्डी।।

◼ 59 💦 उल्फ़त के मारों से ना पूछों आलम इंतज़ार का पतझड़ सी है ज़िन्दगी, ख्याल है बहार का।।

◼ 60 💦 उन की उल्फ़त का यकीं हो उन के आने की उम्मीद हों ये दोनों सूरतें तब है बहार-ए-इंतज़ार।।

  • ◼ 61 💦 ना गुल खिले हैं, ना उन से मिले, ना मय पी है, अजीब रंग में अब के बहार गुज़री है।।

◼ 63 💦 मौसम-ए-गुल में तो आ जाती है काँटों पे बहार, बात तो जब है ख़िजाँ में गुल-ए-तर पैदा कर• ➖फ़ना निज़ामी।।

“मौसम-ए-गुल शायरी”

◼ 64 💦 अपना बर्बाद आशियाँ देखते हैं तो याद आता है, बहारें भी उजाड़ देती हैं तिनकों से बने घरौंदों को• ➖पाकीज़ा।।

  • ◼ 65 💦 मौसम को मौसम की बहारों ने लूटा, हमे कश्ती ने नहीं किनारों ने लूटा।।

◼ 66 💦 यूँ ही शायद दिल-ए-वीराँ में बहार आ जाए, ज़ख़्म जितने मिलें सीने पे सजाते चलिए।।

◼ 67 💦 शिद्दत से बहारों के इंतेज़ार में सब हैं, पर फूल मोहब्बत के तो खिलने नहीं देते।।

◼ 68 💦 इश्क़ में दिल के इलाक़े से गुजरती है बहार, दर्द अहसास तक आए तो नमी तक पहुँचे।।

◼ 70 💦 ये खिजां की ज़र्द सी शाल में जी उदास पेड़ के पास है, ये तुम्हारे घर की बहार है इसे आंसुओ से हरा करो।।

◼ 71 💦 वो गुलबदन कभी निकला जो सैर ए सहरा को तो अपने साथ हवा ए बहार कर लेगा।।

  • ◼ 72 💦 हर आस अश्कबार है, हर साँस बेकरार है, तेरे बगैर जिन्दगी, उजडी हुई बहार है।।

◼ 73 💦 ऐ बे-ख़ुदी-ए-दिल मुझे ये भी ख़बर नहीं किस दिन बहार आई मैं दीवाना कब हुआ• ➖ अरशद अली ख़ान क़लक़।।

◼ 74 💦 न किसी के दिल की हूँ आरज़ू न किसी नज़र की हूँ जुस्तजू, मैं वो फूल हूँ जो उदास हो न बहार आए तो क्या करूँ।।

◼ 75 💦 कांटा समझ के मुझ से न दामन बचाइए, गुजरी हुई बहार की इक यादगार हूँ• ➖ मुशीर झंझानवी।।

  • ◼ 76 💦 आ कहीं मिलते हैं हम ताक़ि बहारें आ जाएँ।। इससे पहले कि ता’अल्लुक़ में दरारें आ जाएँ।।

मौसम-ए-बहार शायरी

  • ◼ 77 💦 लुत्फ़ जो उस के इंतज़ार में है। वो कहाँ मौसम-ए-बहार में है।।

◼ 78 💦 हमारे बाद अब महफ़िल में अफ़साने बयां होंगे बहारे हमको ढूँढेंगी ना जाने हम कहाँ होंगे ना हम होंगे ना तुम होंगे और ना ये दिल होगा फिर भी हज़ारो मंज़िले होंगी हज़ारो कारँवा होंगे।।

◼ 79 💦 गई बहार मगर अपनी बेख़ुदी है वही समझ रहा हूँ कि अब तक बहार बाक़ी है• ➖मुबारक अज़ीमाबादी।।

“बहारों पर शायरी”

◼ 81 💦 मैंने देखा है बहारों में चमन को जलते, है कोई ख्वाब की ताबीर बताने वाला?• ➖अहमद फ़राज़।।

◼ 82 💦 ये हवा, ये रात ये चाँदनी तेरी एक अदा पे निसार हैं, मुझे क्यों ना हो तेरी आरजू तेरी जुस्तजू में बहार है।।

◼ 83 💦 होती हो जब तुम साथ तो तमन्ना ही नही रहती कोई, फिर ये फूल क्या बहारें क्या ये चाँद क्या सितारे क्या।।

◼ 84 💦 देख ज़िन्‍दां के परे जोशे जुनूं, जोशे बहार, रक्‍स करना है तो फिर पांव की ज़ंजीर ना देख• ➖मजरूह सुल्तानपुरी।।

  • ◼ 85 💦 शोर की तो उम्र होती हैं, ख़ामोशी तो सदाबहार होती हैं।।

Bahaar Status in Hindi

◼ 86 💦 दिल को था आपका बेसब्री से इंतज़ार पलके भी थी आपकी एक झलक को बेकरार आपके आने से आई है कुछ ऐसी बहार की दिल बस मांगे आपके लिए खुशिया बेशुमार।।

◼ 87 💦 हुस्न पर जब भी मस्ती छाती है, तब शायरी पर बहार आती है। पीके महबूब के बदन की शराब, जिंदगी झूम-झूम जाती है।।

◼ 88 💦 बहारों का मौसम आया, गुलाब से गुलाब का रंग, जवानी जो तुम पर चढ़ी तो नशा मेरी आँखों में आया।।

◼ 90 💦 जब दिल ने तड़पना छोड़ दिया, जलवों ने मचलना छोड़ दिया, पोशाक बहारों ने बदली, फूलों ने महकना छोड़ दिया।।

  • ◼ 91 💦 कौन से नाम से ताबीर करूँ इस रूत को।। फूल मुरझाएं हैं ज़ख्मों पे बहार आई है।।

◼ 92 💦 लाख गुलाब लगा लो अपने आंगन में सनम, खुशबू और बहार तो हमारे आने से ही आएगी।।

◼ 93 💦 तेरा मुस्कुराना देना जैसे पतझड़ में बहार हो जाये, जो तुझे देख ले वो तेरे हुस्न में ही खो जाये।।

Bahaar Shayari In Enlish

◼ 94 “Pyar Me Ek Hi Mausam Hai Baharo Ka Mausam, Log Mausam Ki Trah Fir Kese Badal Jate Hai “

◼ 95 “Chand Taaron Ki Kasam Khata Hu, Main Baharon Ki Kasam Khata Hu, Koi Aap Jaisa Nazar Nahi Aaya, Mai Nazaaron Ki Kasam Khata Hu”

◼ 96 “E Bekhudi-E-Dil Mujhe Ye Bhi Khabar Nahi Kis Din Bahaar Aayi Main Deewana Kab Hua”
“Lutf Jo Us Ke Entjar Me Hai, Vo Kha Mausme E Bahar Me Hai❗”

◼ 97 “Hamaare Baad Ab Mahafil Me Afasaane Banya Honge Bahaare Hamako Dhundhegi Naa Jaane Ham Kanha Honge, Naa Ham Honge Naa Tum Hoge Aur Naa Ye Dil Honga Fir Bhi Hazaaro Manzile Hongi Hazaaron Karawa Honge❗”

◼ 98 “Gayi Bahaar Magar Apani Bekhudi Hai Wahi Samjh Raha Hun Ki Ab Tak Bahaar Baaki Hain”

◼ 99 “Maine Dekha Hai Baharo Mein Chaman Ko Jalte, Hai Koi Khwaab Ki Tabeer Bataane Wala?”

◼ 100 “Hoti Ho Jab Tum Sath To, Tamanna Hi Nahi rahati Koi, Fir Ye Phool Kya Bahaare Kya, Ye Chand Kya Sitaare Kya”

◼ 101 “Dekh Zinda Ke Pare Joshe Junoon, Joshe Bahaar Raqs Karna Hai To Phir Paanv Ki Zanzeer Na Dekh”

  • ◼ 102 “Shor Ki To Umr Hoti Hain, Khamoshi To Sadabhahaar Hoti hain”

◼ 103 “Dil ko tha aapka besabri se intezar Palke bhi thi aapki ek jhalak ko bekraar Aapke aane se aai hai kuch aisi bahaar Ki dil bas maange aapke liye khushiya beshomar”

◼ 104 “Jab Dil Ne Tadapana Chhod Diya, Jalawo Ne Machalana Chhod Diya. Poshak Baharo Ne Badali, Foolo Ne Mahakana Chhod Diya”

:: Final Word ::

दोस्तों आशा करता हूँ आप सभी को हमारे द्वारा किये गए “92+ Bahaar Shayari In Hindi Urdu Images” का यह पोस्ट पसंद आया होगा

और आपने पढ़ा होगा बहारों पर शायरी, स्टेटस साथ ही आपने हमारे द्वारा संग्रह किये गए “Bahaar Status” को अपने दोस्तों को फेसबुक व्हात्सप्प और इंस्टाग्राम पर साझा भी किया होगा।

आप सभी दोस्तों का 🙏 धन्यवाद आपने हमारा यह पोस्ट को पढ़ा और अपना प्यार दिया आशा करता हूँ आपका प्यार और अपनापन हमेशा हमारे ” वाह हिंदी ब्लॉग ” को मिलता रहेगा❕

Leave a Comment